पलवल में भव्य तरीके से मनाई जाएगी झलकारी बाई की जयंती: डा. बनवारी लाल

Sorry, this news is not available in your requested language. Please see here.

— भाजपा शासन में बढ़ा है स्वतंत्रता सेनानियों और महापुरूषों का मान-सम्मान: डा. बनवारी लाल

जयंती की तैयारियों को लेकर गुरुग्राम पार्टी कार्यालय ‘‘गुरुकमल’’ में हुई बैठक

— 20 नवंबर को गुरुग्राम, नूंह, पलवल और फरीदाबाद जिलों के लोग जयंती समारोह में होंगे शामिल

चंडीगढ़, 15 नवंबर। 

हरियाणा सरकार में सहकारिता मंत्री डा. बनवारी लाल ने कहा कि 20 नवंबर को पलवल में झलकारी बाई की जयंती को धूमधाम व भव्य तरीके से  मनाया जाएगा। जयंती समारोह में गुरुग्राम, फरीदाबाद, नूंह और पलवल जिला के लोग भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि वीरांगना झलकारी बाई झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई की सेना में महिला शाखा दुर्गा दल की सेनापति थीं। वे लक्ष्मीबाई की हमशक्ल भी थीं, इस कारण शत्रु को गुमराह करने के लिए वे रानी के वेश में भी युद्ध करती थीं। अपने अंतिम समय में भी वे रानी के वेश में युद्ध करते हुए वे अंग्रेज़ों के हाथों पकड़ी गयीं और रानी ने अंग्रेजों को चकमा दिया।  ऐसी बहादुर नायिका की जयंती मनाना हम सभी के लिए गर्व की बात है।

बुधवार को गुरुग्राम स्थित भाजपा कार्यालय ‘‘गुरुकमल’’ में जिला अध्यक्ष गार्गी कक्कड़ की अध्यक्षता में झलकारी बाई की जयंती समारोह की तैयारियों को लेकर बैठक को संबोधित कर रहे थे। डा. बनवारी लाल ने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने झलकारी बाई की जयंती को सरकारी स्तर पर मनाने का निर्णय लिया है। जयंती के निमित्त आज तैयारियों को लेकर विस्तृत चर्चा हुई। इस मौके पर उन्होंने भाजपा के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से पलवल में ज्यादा से ज्यादा संख्या में पहुंचने का आग्रह किया।

डा. बनवारी लाल ने कहा कि हरियाणा में जब से मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में भाजपा की सरकार बनी है तभी से महापुरूषों, संत महात्माओं की जयंती सरकारी स्तर पर मनाने का निर्णय लिया गया है। कैबिनेट मंत्री ने बताया कि 2014 से पहले जिन-जिन संतों और महापुरूषों की जयंतिया आती थी तब उनसे संबंधित समाज ही जयंतियां मनाते थे और दूसरे समाज उस समारोह में शामिल नहीं होते थे, जिस कारण समाज में समरसता का भाव नहीं आता था, लेकिन आज भाजपा की केंद्र और राज्य की सरकारें समरसता और भाईचारा को बढ़ाने के लिए विशेष रूप से कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि समाज में समरसता आए और भाईचारा बढ़े इसके लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल सरकार ने सभी महापुरूषों की जयंतियों को सरकारी स्तर पर मनाने का निर्णय लिया है। डा0 बनवारी लाल ने कहा कि पलवल में मनाई जाने वाली झलकारी बाई की जयंती भी सामाजिक समरसता की कड़ी का एक हिस्सा है।

इस मौके पर संगठन मंत्री फणीन्द्रनाथ शर्मा,  हरविंद कोहली, प्रदेश मीडिया सह प्रमुख अरविंद सैनी, एससी मोर्चा के प्रदेश कार्यालय मंत्री डा. दिनेश शास्त्री, भाजपा प्रदेश प्रवक्ता रमन मलिक, जिला महामंत्री महेश यादव, मनीष गाडौली, जिला मीडिया प्रमुख अजीत यादव, सह मीडिया प्रमुख जयवीर यादव, एससी मोर्चा के जिला अध्यक्ष रणजीत सिंह, जिला परिषद के वाइस चेयरमैन ओम प्रकाश, कुलदीप, राकेश, कर्मबीर, अनिल भारती राव, नीरज यादव, बोधराज सीखरी, सतीश नागर, अनिल गंडास, शादाब नकवी, विरेंद्र सरपंच, नितिन शांडिल्य, प्रियव्रत कटारिया, श्रवण आहूजा, कृष्ण यादव, देवेंद्र यादव, अभय चौहान आदि उपस्थित रहे।

Spread the love